जीवन शैली

क्या आपका भी पेट प्रतिदिन बहार आ रहा है ? जानिए क्या है कारण

कई लोगों में पेट बढ़ने की समस्या है। हमारे आसपास भी कई ऐसे लोग हैं जो पेट की चर्बी बढ़ने की समस्या से परेशान हैं। वास्तव में,विज्ञान की भाषा में पेट की चर्बी में वृद्धि को पेट का मोटापा कहा जाता है। इसमें बेली फैट बढ़ता है, जिससे हमारी कमर का आकार बढ़ने लगता है। माना जाता है कि पेट का बढ़ना शरीर की चर्बी को बढ़ाता है। चरबी शरीर के लिए महत्वपूर्ण है लेकिन अगर यह बहुत अधिक है तो यह समस्या पैदा कर सकता है। पेट की चर्बी बढ़ने से दिल की समस्याएं और मधुमेह जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए आज हम आपको ऐसे 5 कारणों के बारे में बताएंगे जो हमारे टोंड को बढ़ाते हैं।

पेट की चर्बी बढ़ने का सबसे बड़ा कारण अधिक कैलोरी का सेवन करना है। यदि आप अपनी आवश्यकता से अधिक कैलोरी लेते हैं, तो आप वजन बढ़ाएंगे और आपके फूला हुआ होने की संभावना बढ़ जाएगी। इसके अलावा शरीर की चरबी जलाने की क्षमता उम्र के साथ कम हो जाती है जिससे पेट की चर्बी की समस्या पैदा होती है।

कभी-कभी हार्मोन हमारे शरीर के कुछ हिस्सों में चरबी जमा करते हैं। उदाहरण के लिए महिलाओं में रजोनिवृत्ति के बाद उनके शरीर में एस्ट्रोजन की मात्रा कम हो जाती है। इस स्थिति में उनके पेट के चारों ओर अधिक चरबी जमा हो जाएगी। इसी तरह पुरुषों में शरीर में वसा वितरण की समस्या के कारण पेट की चर्बी बढ़ जाती है।

Advertisement

कुछ लोगों में यह आनुवांशिक होता है जो उनके शरीर के एक विशिष्ट हिस्से में वसा जमा करता है। यह अक्सर पुरुषों में पेट के आसपास होता है। इसलिए यदि आपके बड़ों को तोन्द की समस्या है तो आनुवंशिक रूप से आपको पेट की चर्बी की समस्या हो सकती है।

हमारे शरीर में हार्मोन का स्तर भी पेट की समस्याओं का कारण बनता है। हमारे शरीर में वास्तव में एक हार्मोन है लेप्टिन। यह हार्मोन भोजन करने के बाद पेट भरने के लिए शरीर को एक संदेश भेजता है। यदि आपके शरीर में लेप्टिन की कमी है तो यह संभव है कि आप जिस भावना से भरे हुए हैं उसमें देरी होगी और आप अधिक खाएंगे। इससे शरीर और पेट में चरबी बढ़ने लगती है।

तनाव आजकल लोगों के जीवन का हिस्सा बन गया है। लेकिन तनाव हमारे शरीर में हार्मोन कोर्टिसोल के स्तर को बढ़ाता है। इससे हमारे पेट के आसपास चर्बी जमा होने की समस्या हो जाती है जिसे हम टमी टक कहते हैं। इसके अलावा जैसे-जैसे पेट बढ़ता है अधिक कोर्टिसोल बढ़ेगा और अधिक ट्यूमर बढ़ेगा। इसके अलावा द्विध्रुवी विकार और सिज़ोफ्रेनिया की समस्या से भी मनुष्यों में पेट की चर्बी बढ़ने की समस्या पैदा होती है।

Related posts

Toddler has howling match with husky and it’s hard to tell who’s winning

Admin

लॉकडाउन में सफल होगी पीएम मुद्रा योजना! एनपीए में घोषित हैं 17 हजार करोड़ रुपये का लोन

Viral Time

दिल्ली: सफदरजंग में 18 साल बाद दर्ज किया गया सबसे गर्म दिन, पालम का पारा 47.6 डिग्री तक पहुंचा

Viral Time

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़