ताज़ा खबर मुख्य समाचार

इजराइल के धार्मिक महोत्सव में हुई दुर्घटना, 30 लोगोने गवाई जान

कोरोना की रिहाई के बाद इजरायल में प्रतिबंधों को कम किया गया था, और शुक्रवार को बोनफायर नामक एक धार्मिक उत्सव आयोजित किया गया था। उत्सव के दौरान हजारों लोग एकत्र हुए और एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई। जिस में अब तक कम से कम 30 लोग मारे गए हैं और हजारों घायल हुए हैं।

माउंट मेरोन एक अलाव त्योहार है जो सालाना आयोजित किया जाता है। इसके लिए हजारों नागरिक एकत्रित होते हैं। इस दौरान नृत्य का कार्यक्रम होता है। कोरोना की वजह से यह महोत्सव पिछले साल नहीं हो सका। इसलिए, इस वर्ष के त्योहार में भाग लेने के लिए नागरिकों में बहुत उत्साह था। हजारों लोगों ने भाग लिया। भीड़ सम्‍मिलित नहीं हो सकी और यह हंगामा में बदल गया। दंगों में तीस नागरिकों की जान चली गई है। मरने वालों की संख्या और बढ़ने की आशंका है।

कई नागरिक घायल हैं। उन्हे अस्पताल ले जाया जा रहा है। कार्यक्रम के आयोजकों ने कहा कि जबकि दस हजार नागरिकों को कार्यक्रम में शामिल होने की अनुमति दी गई थी, वास्तव में तीस हजार नागरिकों ने भाग लिया। तो यह छोटी सी जगह में ज्यादा लोग होने की वजह से यह एक दुर्घटना में बदल गई। इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने इस घटना पर अफसोस जताया है।

Advertisement

इजरायल दुनिया का पहला ऐसा देश है जिसने मास्क न पहनने पे छुट्टी दी है। इजरायल में टीकाकरण की संख्या सबसे अधिक है। उस देश में कई प्रतिबंधों में छूट दी गई है। उस देश के कई नागरिकों ने भी पिछले कुछ दिनों में मास्क का इस्तेमाल करना बंद कर दिया था।

इजरायल की यह घटना बताती है कि कोरोना प्रतिबंधों में ढील दिए जाने के बाद किसी कार्यक्रम का आयोजन कितना खतरनाक हो सकता है।

Related posts

बैठक से पहले केंद्र को किसान संगठनों का खत- हम बातचीत को राजी, पर यह हमारे एजेंडे पर ही होनी चाहिए

Viral Time

ऐश्वर्या और आराध्या भी पॉजिटिव निकले, सिर्फ जया निगेटिव; तीनों ‘जलसा’ वाले घर में होम आइसोलेशन में रहेंगे

Viral Time

बिहार के फारबिसगंज में चौराहे पर लगी प्रतिमा में नाम के आगे लिखा चंद्रशेखर तिवारी आजाद

Viral Time

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़