कोरोना मुख्य समाचार

स्पुतनिक V का पहला कन्साइनमेंट पहुंचा भारत, मिले डेढ़ लाख डोज़

एक तरफ कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है, तो दूसरी तरफ देश में बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है। मगर देश टीकों की कमी का सामना कर रहा है, भारत ने रूस से स्पुतनिक वी वैक्सीन के स्टॉक का ऑर्डर दिया है और इन टीकों की पहली खेप भारत में आ गई है।

स्पुतनिक वी वैक्सीन की डेढ़ लाख खुराकें भारत में आ चुकी हैं और वैक्सीन ले जाने वाला एक विमान हैदराबाद हवाई अड्डे पर आया है। भारत को इस महीने रूस से और 30 लाख टीके मिलेंगे।

स्पुतनिक वी टीका डॉक्टर रेड्डी की प्रयोगशालाओं में भेजा जाएगा। 13 अप्रैल को, ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने स्पुतनिक वी के आपातकालीन उपयोग को मंजूरी दी। स्पुतनिक वी को मंजूरी देने वाला भारत दुनिया का 60 वां देश बन गया है।

Advertisement

रूस ने कहा है कि स्पुतनिक वी की 85 करोड़ से अधिक खुराक हर साल भारत में उत्पादित होती हैं। इस टीके का वैज्ञानिक परीक्षण पूरा हो चुका है। भारत में इस टीके का वैज्ञानिक परीक्षण सकारात्मक है। भारत में, डॉ रेड्डी की मदद से इसका परीक्षण किया गया है।

स्पुतनिक वी वैक्सीन प्राप्त करने के मामले में भारत दुनिया का सबसे बड़ा देश है। भारत स्पुतनिक वी के उत्पादन में भी अग्रणी है। स्पुतनिक वी भारत में कोरोना के खिलाफ इस्तेमाल किया जाने वाला तीसरा टीका है। इससे पहले, भारत ने कोविशिल्ड और कोवेस्किन के आपातकालीन उपयोग की अनुमति दी थी।

स्पुतनिक वी 91.6 प्रतिशत तक प्रभावी होने का दावा किया जाता है। अमेरिका में बने फाइजर और मॉडर्न टीके अब तक केवल 90% प्रभावित हुए हैं। देश में केवल दो टीके उपलब्ध हैं, कोवेस्किन और कोविशिल्ड। भारत बायोटेक के कोवेस्किन 81 फीसदी से प्रभावित है। वहीं, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) द्वारा निर्मित कोविशिल्ड 80 प्रतिशत तक प्रभावी है। भारत में स्पुतनिक वी 90% से अधिक की प्रभावशीलता के साथ एकमात्र टीका होगा।

Related posts

पवार की मौजूदगी में खडसे आज NCP में शामिल होंगे, दो दिन पहले भाजपा से इस्तीफा दिया था

Viral Time

2021 में एआई, स्पेस और सायबर टेक्नोलॉजी की मदद से सेना और सशक्त बनेगी

Viral Time

ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना लगेगा, ब्रिटेन ने संक्रमण के आंकड़े जारी करने पर रोक लगाई, दुनिया में मौतों का आंकड़ा 6 लाख के पार

Viral Time

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़