Viral Time
Breaking News
Technologhy

चीन के बाद सबसे ज्यादा ऑनलाइन गेमर्स भारत में (38% बढ़ी ऑनलाइन गेमिंग इंडस्ट्री) |

हाल के सालों में घरेलू ऑनलाइन गेमिंग इंडस्ट्री की ग्रोथ सबसे तेज रही है। बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप और वेंचर कैपिटल फर्म सिकोइया के मुताबिक, भारत में अभी ऑनलाइन गेमिंग इंडस्ट्री सालाना 38% की रफ्तार से बढ़ रही है। 5जी टेलीकॉम सर्विसेस शुरू होने के बाद यह ग्रोथ और बढ़ेगी। इसके मुकाबले अमेरिका में यह इंडस्ट्री सिर्फ 10% और चीन में 8% की रफ्तार से बढ़ रही है।

केपीएमजी के मुताबिक, देश में अभी 400 से ज्यादा गेमिंग कंपनियां हैं और करीब 42 करोड़ ऑनलाइन गेमर्स हैं। इनकी इससे ज्यादा संख्या सिर्फ चीन में है। इसकी बदौलत भारत दुनिया के शीर्ष पांच मोबाइल गेमिंग बाजारों में शामिल हो गया है। केपीएमजी ने ये अनुमान भी लगाया है कि वित्त वर्ष 2023-24 के आखिर तक भारतीय गेमिंग इंडस्ट्री की आय 29,400 करोड़ से ऊपर निकल जाएगी, जो 2020-21 में 14,311 करोड़ रुपए थी।

गूगल-माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनियां चला रहीं प्रोजेक्ट्स
गूगल और माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनियां पहले से क्लाउड गेमिंग प्रोजेक्ट्स पर काम कर रही हैं। गूगल ने 2020 में 4जी और 5जी नेटवर्क पर स्टैडिया क्लाउड गेमिंग का परीक्षण किया था। माइक्रोसॉफ्ट भी कोरियाई कंपनी एसके टेलीकॉम से हाथ मिला चुकी है।
गेमिंग एयरटेल की बिजनेस स्ट्रैटजी के केंद्र में होगी
भारती एयरटेल डिजिटल के CEO आदर्श नायर ने कहा कि गेमिंग हमारी बिजनेस स्ट्रैटजी का फोकस एरिया होगा। चूंकि 5जी टेक्नोलॉजी में लो लेटेंसी के साथ हाई स्पीड मिलेगी, इसलिए क्लाउड गेमिंग के लिए 5जी का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होगा।
5जी के साथ देश में शुरू होगा क्लाउड गेमिंग का दौर
इस साल के आखिर तक देश में 5जी सेवाएं शुरू होने जा रही हैं। इससे पहले फ्रांसीसी क्लाउड गेमिंग फर्म ब्लैकनट, रिलायंस जियो और एयरटेल से बातचीत कर रही है, ताकि भारत में 5जी नेटवर्क के साथ क्लाउड गेमिंग सर्विस लॉन्च की जा सके।

Leave a Comment