मुख्य समाचार

कोरोना के चलते दुनियाभर में खून की सप्लाई में कमी आई, एक्सपर्ट्स बोले- संक्रमण ब्लड डोनेशन से नहीं फैलता, इसलिए डरे नहीं

  • ब्लड डोनेशन सेंटर्स भी सावधानी रख रहे हैं, डोनर के साथ डॉक्टर का भी तापमान जांच रहे हैं
  • रेड क्रॉस ब्लड सेंटर्स ने भी अपने स्टाफ से मास्क और ग्ल्व्ज पहनकर ही ब्लड लेने को कहा है

दैनिक भास्कर

Jun 19, 2020, 05:39 PM IST

नैंसी वार्टीक. कोरोनावायरस फैलने के साथ ही दुनियाभर में खून की सप्लाई में भी कमी आ गई है। महामारी के कारण ब्लड ड्राइव-कैम्प्स कैंसिल हो गए हैं और लोग रक्तदान करने के लिए सेंटर्स पर जाने में भी डर रहे हैं। अमेरिकन रेडक्रॉस के लिए बायोमेडिकल सर्विसेज के प्रेसिडेंट क्रिस होरुदा इसे चौंका देने वाली गिरावट बताते हैं। क्रिस कहते हैं कि हमारी इंवेंट्री आधी हो गई हैं और हम गंभीर हालात की ओर जा रहे हैं।

महामारी के दौरान रक्तदान करने से संबंधित सवालों के जवाब एक्सपर्ट्स दे रहे हैं-

कौन खून दे सकता है?
कोई भी स्वस्थ्य व्यक्ति खून दे सकता है। गाइडलाइंस को लेकर अपने लोकल सेंटर्स से बात करें। यूनिवर्सिटी ऑफ मिनेसोटा में ब्लड बैंक लैब की डायरेक्टर और एएबीबी की चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर क्लॉडिया कॉह्न के मुताबिक, बुजुर्ग अमेरिकी देश के सबसे अच्छे डोनर्स हैं। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा कि वे अनुपातहीन मात्रा में खून देते हैं, हम जानते हैं कि जोखिम बहुत ही कम है, लेकिन अगर वे बाहर जाने को लेकर चिंतित हैं तो हम उनकी रक्षा करना चाहते हैं।

क्या ब्लड डोनेट करने से आपको कोरोनवायरस हो सकता है?
डॉक्टर क्लॉडिया कहते हैं कि यह खून से जन्म लेने वाली बीमारी नहीं है। खून अपने आप में सुरक्षित है।आमतौर पर कोरोनावायरस खून से फैलने वाला नहीं लगता है, जैसा कि SARS और MERS के प्रकोप से पता चला।

ब्लड सेंटर्स डोनर्स की सेफ्टी के लिए क्या कर रहे हैं?
अमेरिकन रेड क्रॉस में बायोमेडिकल सर्विसेज के चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर पांपी यंग ने कहा था कि हम पूरी तरह समझते हैं कि लोग संकोच कर रहे हैं, लेकिन हम उन्हें आश्वासन देना चाहते हैं कि हम इसे खासी सावधानी के साथ संभाल रहे हैं।

रेड क्रॉस ब्लड सेंटर्स ने सामान्य प्रक्रियाएं बढ़ा दी हैं। जैसे स्टाफ मास्क और ग्ल्व्ज पहनेगा। डोनर के साथ-साथ खुद के तापमान की भी जांच होगी। सभी सतहों को बार-बार साफ किया जा रहा है और डोनर्स को 6 फीट की दूरी पर रखा गया है। 

मुझे घर पर रहने के लिए कहा गया है, क्या मैं खून दे सकता हूं?
हां, बिल्कुल दे सकते हैं। डॉक्टर यंग के मुताबिक, जब तक कुछ जरूरी न हो तो घर में रहने के लिए कहा गया है। पब्लिक हेल्थ अधिकारियों ने पाया कि ब्लड डोनेशन जरूरी है और इसके लिए उन्होंने छूट दी है।

क्या कोरोनावायरस या कोविड 19 था तो मैं ब्लड डोनेशन कर सकता हूं?
हां, लेकिन कुछ चेतावनियों के साथ। आपको डोनेशन काफी ज्यादा कीमती हो सकता है, क्योंकि इसमें कथित कॉन्वालैसेंट प्लाज्मा है, जिसमें एंटीबॉडीज होती हैं। एएबीबी के प्रवक्ता एडुआर्डो नूनेस बताते हैं कि एंटीबॉडी थैरेपी कोविड 19 के मरीजों के इलाज का वादा करती हैं और यह टेस्टेड भी है। कई सेंटर्स डोनेशन से पहले 28 दिन तक सिम्पटम्स फ्री होना पसंद करते हैं।

Related posts

‘कसौटी जिंदगी के’ एक्टर पार्थ समथान भी कोरोना पॉजिटिव; सेट पर 30 लोग थे, एकता कपूर का स्टूडियो सील होगा

Viral Time

जिस फोटो को बिहार बाढ़ का बताकर कांग्रेस ने सीएम नीतीश पर निशाना साधा, वह पड़ताल में पश्चिम बंगाल की निकली

Viral Time

आज शेड्यूल जारी होने के साथ शुरू होगी IPL की उलटी गिनती, सुप्रीम कोर्ट JEE-NEET टालने को लेकर 6 राज्यों की पिटिशन एक बार फिर सुनेगा

Viral Time

Leave a Comment

टॉप न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़