Viral Time
Breaking News
खेल

उदयपुर में राष्ट्रीय व्हीलचेयर क्रिकेट चैम्पियनशिप: 16 टीमों के 300 खिलाड़ी होंगे शामिल

राजस्थान के उदयपुर में नारायण सेवा संस्थान, उदयपुर, डिफरेन्टली एबल्ड क्रिकेट कौंसिल ऑफ इंडिया और व्हीलचेयर क्रिकेट इंडिया एसोसिएशन के संयुक्त तत्वावधान में 27 नवम्बर से 3 दिसम्बर तक तीसरी राष्ट्रीय व्हीलचेयरर क्रिकेट चैम्पियनशिप – 2022 का आयोजन होगा। इस व्हीलचेयर क्रिकेट चैम्पियनशिप में राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, उत्तराखण्ड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बड़ौदा, गुजरात, मुम्बई, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश व तेलंगाना की कुल 16 टीमों के 300 से अधिक व्हीलचेयर खिलाड़ी भाग ले रहे है, जो कल से उदयपुर पहुंचना शुरू होंगे। कुछ खिलाड़ी ट्रेनों से आ रहे हैं तो कुछ फ्लाइट से। साथ ही चैम्पियनशिप की सफलता और व्यवस्था में 100 से ज्यादा खेल अधिकारी भी आ रहे हैं।

नारायण सेवा संस्थान के अध्यक्ष प्रशान्त अग्रवाल ने बताया कि हमारे दिव्यांग भाईयों में खेलों के प्रति रूचि पैदा करने और देश के समग्र विकास में उनकी भूमिका बढ़ाने के लिए संस्थान हर वर्ष विभिन्न खेलों का आयोजन करता है। इस राष्ट्रीय खेल कुंभ का उद्घाटन समारोह सूरजपोल रोड स्थित राजस्थान कृषि महाविद्यालय (आरसीए) के ग्राउण्ड में रखा गया है। समारोह के दिन 10-10 ऑवर का प्रदर्शन मैच खेला जाएगा। खेल स्पर्धा को देखने वाले लोग, दिव्यांग खिलाड़ियों के जोश-हौसले का आनन्द उठाने के साथ चकित भी होंगे। व्हीलचेयर पर बैटिंग-बोलिंग और फिल्डिंग करना कई लोगों के लिए बिल्कुल नया और पहला अवसर होगा। राणा प्रतापनगर रेल्वे ग्राउण्ड व डबोक स्थित नारायण पैरा स्पोर्ट्स एकेडमी ग्राउण्ड पर भी लीग मैच होंगे।
इससे पहले 2 बार नारायण सेवा संस्थान दिव्यांगों को खेल जगत में मुकाम दिलाने के लिए नेशनल पैरा स्वीमिंग का आयोजन 2017 और 2022 में कर चुका है। एक बार नेशनल ब्लाइंड क्रिकेट प्रतियोगिता करवा चुका है। जिसमें भी विभिन्न राज्यों के सैकड़ों दिव्यांगों ने अपना दमखल दिखाकर लोगों के दिल जीत लिए थे। डीसीसीआई के संयुक्त सचिव अभय प्रताप सिंह ने बताया कि व्यवस्थित और निर्धारित कार्यक्रमानुसार आयोजन सम्पन्न कराने के लिए संस्थान के साथ विभिन्न कमेटियां गठित की गई हैं। जिससे डीसीसीआई और नारायण सेवा संस्थान के अधिकारियों के साथ बेहतर तालमेल संभव होगा। संस्थान द्वारा विभिन्न क्षेत्रों से आए दिव्यांग क्रिकेर्ट्स को बेहतरीन एवं सुविधाजनक आवास, भोजन और यातायात सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं।
ग्रुप (ए) मध्य प्रदेश, बडौदा, हरियाणा, कर्नाटक
ग्रुप (बी) राजस्थान, गुजरात, उत्तराखण्ड, आन्ध्र प्रदेश
ग्रुप (सी) उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, हिमाचल प्रदेश, तेलंगाना
ग्रुप (डी) पंजाब, छत्तीसगढ़, मुम्बई, दिल्ली
24 लीग, 2 सेमीफाइनल सहित 27 मैच
व्हीलचेयर क्रिकेट के लीग मैच 28 नवम्बर से 01 दिसम्बर तक चलेंगे। प्रत्येक ग्राउण्ड पर प्रतिदिन 2 मैच होंगे यानि हर रोज 6 मैच सम्पन्न होंगे। 2 दिसम्बर को ग्रुप ए वर्सेस गु्रप डी विनर से और ग्रुप बी वर्सेस गु्रप सी विनर से सेमीफाइनल खेले जायेंगे। अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांगता दिवस 3 दिसम्बर को फाइनल मैच खेला जाएगा। समापन समारोह में विजेता टीम को ट्रोफी और बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाडियों को सम्मानित किया जाएगा। इससे पहले पंजाब ने ट्राफी पर कब्जा किया था।
16 टीम और खेल प्रबंधन के अधिकारियों की जर्सी का रंग और डिजाइन भी आकर्षण का केन्द्र होगा। दिव्यांग खिलाड़ियों की जर्सी की बनावट में इसका विशेष ध्यान रखा गया है कि उन्हें खेल के दौरान चैम्पियनशिप का समर्थक राजस्थान रॉयल्स इन खिलाडियों के मनोबल को बनाए रखने के लिए विभिन्न तरह से सहयोग करेगा किसी तरह की असुविधा न हो। चौम्पियन (विजेता) टीम को रोलिंग ट्रॉफी के साथ 2.50 लाख रूपये जबकि उप-विजेता टीम को 1.50 लाख रूपये नकद पुरस्कार रूवरूप प्रदान किए जाएंगे। दोनों सेमीफाइनल की उप-विजेता टीमों को 50-50 हजार रूपये नकद का पुरस्कार दिया जाएगा।

Related posts

दमन में गर्ल्स एवं बोयज के लिए खो-खो, कबड्डी, क्रिकेट, वॉलीबॉल, रस्साखेच एवं बीच वॉलीबॉल स्पर्धा का आयोजन किया गया

cradmin

फरीदाबाद: हरियाणा की खेल नीति की बदौलत ही देश में आ रहे 30 प्रतिशत मेडल: नयन पाल रावत

cradmin

उन्नाव में हुआ वकीलों का स्वास्थ्य परीक्षण: दिल्ली से आए डॉक्टरों ने की जांच, बोले- प्रोटीन को खाने में करें शामिल

cradmin

Leave a Comment