Viral Time
Breaking News
अपराध

गायनेकोलोजिस्ट को हुआ अन्य महिला से प्यार, पत्नी ने दर्ज कराई शिकायत

बारडोली : बारडोली की एक निजी अस्पताल के गायनेकोलोजिस्ट के खिलाफ उसकी पत्नी ने शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना की शिकायत दर्ज करवाई। महिला पुलिस थाने में दी शिकायत में पत्नी ने डॉक्टर पति का अन्य स्त्री साथ अवैध संबंध होने और दहेज की मांग करने का आरोप भी लगाया। पति समेत पाँच जनो के खिलाफ सूरत ग्रामीण के महिला थाने में मामला दर्ज हुआ।

फिलहाल बारडोली के धामडोद लुंभा गाँव की शिर्डीधाम सोसाइटी निवासी रिचा भरतभाई चौधरी (33) की शादी मांडवी तहसील के कोसाड़ी गाँव निवासी डॉ. चेतन नरसिंह चौधरी के साथ साल 2012 में हुई थी। पति की नौकरी नवसारी होने से दोनों नवसारी रहने गए थे। इसके बाद तबादला होने पर पहेले दाहोद जिला के गरबाड़ा बाद में बगसरा रहने के ल्ये गए थे। वहाँ से डॉ. चेतन चौधरी बारडोली की सरदार स्मारक अस्पताल में नौकरी के लिए आ गया था। और यहाँ पर ही पत्नी और माता पिता के साथ रहता था। शादी के बाद दोनों को एक सात साल की बच्ची भी है। सरदार स्मारक अस्पताल में दो साल नौकरी करने के बाद पार्टनरशिप में खुद का अस्पताल ग्रीन एपल नाम से शुरू किया। जिसमें चेतन चौधरी डिरेक्टर और पत्नी रिचा CEO के पद पर है। अस्पताल के लिए रुपयो की जरूरत होने पर चेतन पत्नी रिचा पर घर से रुपए लाने के लिए दबाव बनाता था। रिचा के पिता ने बढ़ते दबाव को देख 12 लाख रुपए चेक से दिये थे। इतना ही नहीं रिचा के पिता के सूरत स्थित मकान पर भी एक करोड़ की लोन लेकर अस्पताल में उपयोग किया था। इस बीच पिछले ढाई साल से डॉ. चेतन चौधरी का अन्य स्त्री के साथ अवैध संबंध होने की जानकारी मिलते ही रिचा और चेतन के बीच बार बार कहासुनी होने लग। कई बार समझाने के बाद भी पति ने कोई बात नहीं मानी और अन्य स्त्री के साथ संबंध चालू रखे और रिचा से मारपीट करने लगा। ससुराल वालो को इस बारे में रिचा ने शिकायत की तो उन्होने भी मातापिता के घर चले जाने को कहा। बार बार झघड़ा होने के बाद डॉ. चेतन उसके गाँव चला गया। और रिचा उसकी बेटी के साथ अकेली बारडोली रहती थी। समाज के लोगो ने भी बार बार समाधान के प्रयास किए लेकिन कोई हल नहीं मिला। डॉ. चेतन ने बेटी को अगवा करने की भी धमकी दी और घर खाली कर दिवोर्स देने को कहा। बेटी के साथ अकेली रहेती रिचा ने बाद में सूरत जिला महिला पुलिस की सहायता लेनी पड़ी। रिचा की शिकायत के आधार पर पति डॉ. चेतन नरसिंह चौधरी, सास लीला नरसिंह चौधरी, देवर योगेश नरसिंह चौधरी, अलपेश नरेसिंह चौधरी और बहादुर सूखा चौधरी के खिलाफ शारीरिक मानसिक रूप से प्रताड़ित करने व दहेज प्रतिबंधक की धारा के तहत मामला दर्ज करवाया।

बारडोली : बारडोली की एक निजी अस्पताल के गायनेकोलोजिस्ट के खिलाफ उसकी पत्नी ने शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना की शिकायत दर्ज करवाई। महिला पुलिस थाने में दी शिकायत में पत्नी ने डॉक्टर पति का अन्य स्त्री साथ अवैध संबंध होने और दहेज की मांग करने का आरोप भी लगाया। पति समेत पाँच जनो के खिलाफ सूरत ग्रामीण के महिला थाने में मामला दर्ज हुआ।

फिलहाल बारडोली के धामडोद लुंभा गाँव की शिर्डीधाम सोसाइटी निवासी रिचा भरतभाई चौधरी (33) की शादी मांडवी तहसील के कोसाड़ी गाँव निवासी डॉ. चेतन नरसिंह चौधरी के साथ साल 2012 में हुई थी। पति की नौकरी नवसारी होने से दोनों नवसारी रहने गए थे। इसके बाद तबादला होने पर पहेले दाहोद जिला के गरबाड़ा बाद में बगसरा रहने के ल्ये गए थे। वहाँ से डॉ. चेतन चौधरी बारडोली की सरदार स्मारक अस्पताल में नौकरी के लिए आ गया था। और यहाँ पर ही पत्नी और माता पिता के साथ रहता था। शादी के बाद दोनों को एक सात साल की बच्ची भी है। सरदार स्मारक अस्पताल में दो साल नौकरी करने के बाद पार्टनरशिप में खुद का अस्पताल ग्रीन एपल नाम से शुरू किया। जिसमें चेतन चौधरी डिरेक्टर और पत्नी रिचा CEO के पद पर है। अस्पताल के लिए रुपयो की जरूरत होने पर चेतन पत्नी रिचा पर घर से रुपए लाने के लिए दबाव बनाता था। रिचा के पिता ने बढ़ते दबाव को देख 12 लाख रुपए चेक से दिये थे। इतना ही नहीं रिचा के पिता के सूरत स्थित मकान पर भी एक करोड़ की लोन लेकर अस्पताल में उपयोग किया था। इस बीच पिछले ढाई साल से डॉ. चेतन चौधरी का अन्य स्त्री के साथ अवैध संबंध होने की जानकारी मिलते ही रिचा और चेतन के बीच बार बार कहासुनी होने लग। कई बार समझाने के बाद भी पति ने कोई बात नहीं मानी और अन्य स्त्री के साथ संबंध चालू रखे और रिचा से मारपीट करने लगा। ससुराल वालो को इस बारे में रिचा ने शिकायत की तो उन्होने भी मातापिता के घर चले जाने को कहा। बार बार झघड़ा होने के बाद डॉ. चेतन उसके गाँव चला गया। और रिचा उसकी बेटी के साथ अकेली बारडोली रहती थी। समाज के लोगो ने भी बार बार समाधान के प्रयास किए लेकिन कोई हल नहीं मिला। डॉ. चेतन ने बेटी को अगवा करने की भी धमकी दी और घर खाली कर दिवोर्स देने को कहा। बेटी के साथ अकेली रहेती रिचा ने बाद में सूरत जिला महिला पुलिस की सहायता लेनी पड़ी। रिचा की शिकायत के आधार पर पति डॉ. चेतन नरसिंह चौधरी, सास लीला नरसिंह चौधरी, देवर योगेश नरसिंह चौधरी, अलपेश नरेसिंह चौधरी और बहादुर सूखा चौधरी के खिलाफ शारीरिक मानसिक रूप से प्रताड़ित करने व दहेज प्रतिबंधक की धारा के तहत मामला दर्ज करवाया।

Related posts

शर्मनाक : प्रधानाचार्य ने कक्षा 3 की छात्रा को दिखाया अश्लील वीडियो और फोटो

यूपी के अलीगढ़ में ट्रेन से कटकर एक युवक के शरीर उड़े चिथड़े।

cradmin

फ़िरोज़पुर शहर में गोली चलने का मामला आया सामने गोली लगने से एक घायल

Leave a Comment