Viral Time
Breaking News
देश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मानगढ़ धाम पर आयोजित कार्यक्रम में राजस्थान और गुजरात के मुख्यमंत्री शामिल हो सकते हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवंबर में राजस्थान आएंगे। उनका बांसवाड़ा के मानगढ़ धाम में अहम दौरा होगा। यह दौरा 1 नवंबर को होगा। पीएम के इस दौरे को गुजरात चुनाव से जोड़कर देखा जरुर जा रहा है, मगर इसे लेकर बीजेपी और प्रधानमंत्री की रणनीति बिल्कुल अलग है। यह दौरा गुजरात के साथ-साथ राजस्थान के लिए भी बेहद महत्वपूर्ण हैं।

राजनीतिक जानकारों का कहना है कि नरेंद्र मोदी का मानगढ़ दौरा गुजरात चुनाव प्रचार का ही हिस्सा है। मगर इसे पीएमओ के कार्यक्रम के तौर पर प्रोजेक्ट किया जा रहा है। यही वजह है कि राजस्थान में यह संगठन का कार्यक्रम होने के बजाय पीएमओ का कार्यक्रम है।
संभावना है कि इसमें राजस्थान और गुजरात के मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे। माना जा रहा है कि मानगढ़ दौरे से पीएम मोदी आदिवासियों के लिए कुछ बड़ी घोषणाएं कर सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो राजस्थान और गुजरात के आदिवासी इससे प्रभावित होंगे। दोनों राज्यों को मिलाकर आदिवासियों के लिए विधानसभा की 52 सीटें आरक्षित हैं, इसमें 25 राजस्थान और 27 गुजरात की हैं।
मानगढ़ धाम को राष्ट्रीय महत्व का स्मारक घोषित करने के लिए राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत दो बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख चुके हैं। 22 जुलाई को भी उन्होंने इस संबंध में पीएम को इसे राष्ट्रीय स्मारक घोषित करने के लिए अवगत कराया। सीएम ने पीएम के 1 नवंबर के दौरे की तैयारियों की समीक्षा भी की।
मानगढ़ में दौरे से राजस्थान को भी पीएम मोदी साधेंगे। यहां से दक्षिणी राजस्थान पर पीएम मोदी का फोकस होगा। दक्षिणी राजस्थान में खासतौर से आदिवासी जिलों में बीजेपी इतनी मजबूत नहीं है। यहां बांसवाड़ा में 2, डूंगरपुर में 1 ही सीट बीजेपी की है। वहीं प्रतापगढ़ में बीजेपी के पास एक भी सीट नहीं है। हालांकि उदयपुर, चित्तौड़गढ़, पाली, सिरोही में बीजेपी मजबूत है। ऐसे में इस क्षेत्र से भी मोदी कनेक्ट होना चाहेंगे।
राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र सहित आसपास के इलाकों के आदिवासियों के कई मुद्दों पर लंबे समय से बात हो रही है। इनमें जनगणना में आदिवसियों का अलग कॉलम और ट्राइबल कोड की मांग सबसे प्रमुख है। मानगढ़ धाम को राष्ट्रीय महत्व का स्मारक घोषित करने की मांग भी बढ़ी है। इसके अलावा ट्राइबल एरिया से जुड़े लोगों के रिजर्वेशन को लेकर कॉमन पॉलिसी। इसके अलावा भी कई मांगें आदिवासी समाज की चल रही हैं।
कमेटी शामिल होगी। इसमें पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित राजस्थान के केंद्रीय मंत्री, प्रदेशाध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष, राज्यसभा और लोकसभा सांसद शामिल होंगे। पीएम के इस कार्यक्रम में सभी नेताओं के शामिल होने से एकजुटता का मैसेज भी दिया जाएगा।
इस कार्यक्रम की जिम्मेदारी बीजेपी के स्तर पर केंद्रीय संसदीय कार्य राज्य मंत्री अर्जुन मेघवाल को दी गई है। इसके अलावा राजस्थान की पूरी कोर कमेटी भी इसकी तैयारियों में लग गई है। 21 अक्टूबर को दिल्ली में हुई कोर कमेटी की बैठक में भी मानगढ़ के दौरे की तैयारियों पर बात की गई थी।

Related posts

राजस्थान में इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना शुभारंभ श्री अशोक गहलोत ने की

viraltime

कौन थे साइरस मिस्त्री? टाटा समूह के साथ उनका क्या संबंध है? विस्तार से जानिए

cradmin

सर्व शोषित समाज संघ द्वारा हुई अहम बैठक

cradmin

Leave a Comment