Viral Time
Breaking News
Business

विधायक अनंत पटेल पर हमले और सूरत के चार कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार करने को लेकर कांग्रेसियों में गुस्सा

 

बारडोली : सूरत जिला कांग्रेस कमेटी ने सोमवार को कांग्रेस विधायक अनंत पटेल पर हुए हमले के खिलाफ बारडोली जिला पदाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा। पत्र में हमलावरों के खिलाफ तत्काल कानूनी कार्रवाई की मांग की गई है। इसके अलावा सूरत शहर से चार कोंग्रेसी कार्यकर्ताओं को पासा के तहत गिरफ्तार किए जाने को लेकर भी कांग्रेसियों ने विरोध प्रदर्शन किया। अगर इन दोनों मुद्दों पर उचित कदम नहीं उठाए गए तो कांग्रेस पार्टी ने चेतावनी दी है कि उनके द्वारा आगामी दिनों में आक्रामक कार्यक्रम दिए जाएंगे।

 

नवसारी जिले के खेरगाम में कांग्रेस विधायक अनंत पटेल पर हमले से आदिवासियों में आक्रोश है। हमले के बाद कांग्रेस भी हरकत में आ गई है और जिला व तालुका मुख्यालय में ज्ञापन देकर घटना की निंदा कर रही है। सूरत जिला कांग्रेस कमेटी ने सोमवार को बारडोली के डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन दिया। ज्ञापन के मुताबिक आदिवासियों के बीच लोकप्रिय विधायक अनंत पटेल की जीत निश्चित होने के कारण यह हमला कथित तौर पर नवसारी जिला पंचायत के अध्यक्ष भीखुभाई अहीर ने किया है। भाजपा नेता अब चुनाव जीतने के लिए लोगों में डर पैदा करने के लिए ऐसी निम्न स्तर की राजनीति कर रहे हैं।  जिसकी कांग्रेस कड़ी निंदा करती है।

कांग्रेस ने घटना की जांच कर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है। ज्ञापन में कहा गया है कि भाजपा द्वारा पुलिस व्यवस्था के घोर दुरूपयोग के कारण सूरत शहर में कांग्रेस द्वारा आयोजित विरोध प्रदर्शन के परिणामस्वरूप चार कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सूरत जिले के बाहर जेल भेज दिया गया है। इसके बाद उसने मांग की है कि इस तरह की असंवैधानिक और अवैध गतिविधियों को रोका जाए। 29 सितंबर को जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सूरत का दौरा किया तो लिंबायत विधायक संगीता पाटिल ने राजनीतिक दबाव लाकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ बेबुनियाद उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। इस मामले में नगर कांग्रेस के आशीष राय, गुलाब यादव, किशोर शिंदे और संतोष शुक्ला को गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद चारों को पासा के तहत जिले से बाहर अलग-अलग जेलों में भेज दिया गया। इन दोनों घटनाओं को लेकर जिला कांग्रेस में काफी आक्रोश था और उन्होंने इस मामले में उचित जांच के साथ ही आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की।

Related posts

मध्य प्रदेश में शराबबंदी को लेकर उमा का मार्च कल,भोपाल में पैदल चलेंगी, मौन भी रखेंगी।

ओम प्रकाश राजभर के ‘कट्टप्पा’ ने बनायीं नयी पार्टी, नाम रखा सुहेलदेव स्वाभीमान पार्टी

दिवाली से पहले सोना उछलकर 52,000 के पार, जानें कहां तक जा सकता है भाव

Leave a Comment