Viral Time
Breaking News
Business

गोरखपुर यूपी।सीएम योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर की गौशाला में की गौसेवा,साथ ही अपने प्रिय श्वान कालू व गुल्लू को दुलारा।

गोरखपुर यूपी।गोरखपुर में सीएम योगी ने बुधवार को तंदुए के शावक को गोद में लेकर दूध पिलाने का वीडियो सामने आने के बाद एक बार फिर गुरुवार को गौ प्रेम दिखाई दिया। सीएम ने गोरखनाथ मंदिर की गोशाला में गौसेवा की।गाय, बैल, बछडों को उनके नाम से (नंदी, भोले, गौरी, श्यामा आदि) बुलाया और दुलारकर अपने हाथों से गुड़-चना खिलाया। सीएम योगी का दुलाार देख ये गौवंश भाव विह्वल और निहाल दिखे।दरअसल, दशहरा के पारंपरिक कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए रविवार शाम से गोरखनाथ मंदिर में प्रवास कर रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार सुबह जयपुर रवाना हो गए। गुरुवार को जयपुर में स्मृतिशेष पंचखण्ड पीठाधीश्वर आचार्य धर्मेंद्र की श्रद्धांजलि सभा और उनके उत्तराधिकारी की चादरपोशी के कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे।इससे पहले उन्होंने गुरुवार सुबह शिवावतारी गुरु गोरखनाथ का दर्शन पूजन करने के बाद अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर माथा टेका। इसके बाद मंदिर परिसर का भ्रमण करते हुए गोशाला पहुंचे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गायों, बैलों और बछडों को एक-एक कर उनके नाम से पुकारा। सीएम योगी की आवाज पर गोवंश झूमते हुए उनके पास चले आए। सीएम योगी ने उन्हें अपने हाथों से गुड़-चना खिलाया, उनके मुख को प्यार से सहलाया। योगी कुछ देर तक उन्हें दुलारते हुए बात भी करते रहे। गोवंश भी उनके पास ऐसे मगन रहे मानो उनकी सारी बात को समझ रहे हों। इसके पहले बुधवार सुबह भी मुख्यमंत्री ने गोसेवा की थी। साथ ही अपने प्रिय श्वान कालू व गुल्लू को दुलारा था। गुल्लू को दुलारते समय गोवा से परिवार के साथ विजयदशमी मनाने गोरखनाथ मंदिर आई चार साल की मासूम दिव्यांशी को सीएम ने अपने पास बुलाया।उसके स्नेह और आशीर्वाद देते हुए उसके मासूम सवालों का भी जवाब दिया। ‘योगी बाबा’ से मिलकर और उनसे हुए आत्मीय संवाद से दिव्यांशी की खुशी का ठिकाना नहीं था।

Related posts

अदानी ने टाटा को पछाड़ा; मार्केट कैप के हिसाब से देश की सबसे मूल्यवान कंपनी

cradmin

जल जीवन मिशन : योगी ने कहा लापरवाही स्वीकार नहीं, गड़बड़ी करी तो होगी कड़ी कार्रवाही

जयपुर – सिविल लाइन्स हुआ छावनी में तब्दील लगी भीड़

Leave a Comment